भारत की सबसे ऊंची इमारत (2022) Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai

क्या आप भी भारत की सबसे ऊंची इमारत  के बारे में जानने के इच्छुक है और हो भी क्यों न किसी भी देश की तरक्की का पता उसमे बसी बड़ी-बड़ी इमारतों को देख के चलता है आधुनिकता में टेक्नोलॉजी का बहुत बड़ा योगदान है

भारत भी समय के साथ विकसित होता जा रहा है और भारत के शहरों में भी आज गंगनचुम्बी इमारतें है किसी देश की आधुनिकता का पता उसमे बसी इमारतों को देख के किया जा सकता है

इमारतें वह जगह होती है जहा रहने की व्यवस्था हो हम मंदिर, इंडस्ट्री आदि को इमारतों की लिस्ट में नही गिनते है, भारत भी बहुत तेज़ी से विकसित हो रहा है यह टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में आधुनिकता में हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है

सबसे पहली भारत की गगनचुंबी इमारत का निर्माण 1959 से शुरू हुआ था 1959 में भारत की पहली गगनचुम्बी ईमारत का निर्माण चेन्नई में हुआ था और समय के साथ इससे बड़ी इमारतें बनती गई

आज अर्थात 2022 तक भारत में ऐसी इमारतें बन गयी है जिनको हम बिना किसी संदेह के भारत की ऊँची इमारतों में गिन सकते है आज हम आपको विस्तार में 10 भारत की सबसे ऊंची गगनचुंबी  इमारत के बारे में बताएँगे

 

Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai
Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai

 

विषय

भारत की सबसे ऊंची इमारत – (2022) Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai

भारत की सबसे ज्यादा ऊँची इमारत का निर्माण मुंबई शहर में हुआ है बड़ी-बड़ी इमारतों का निर्माण भारत के बड़े शहरों में हुआ है भारत के बड़े शहर जैसे मुंबई, कोलकाता ज़्यादातर इमारतें महाराष्ट्र राज्य के मुंबई शहर में स्थित है

मुंबई में कुल लगभग 200 गगनचुंबी इमारतें है समय के साथ मुंबई और कोलकाता, नॉएडा आदि शहरों में लगातार बड़ी-बड़ी बिल्डिंग का निर्माण होता जा रहा है मुंबई का पैलेस रोयाले आज के समय में भारत की सबसे ऊँची बिल्डिंग है आइये इसके बारे में जानते है

 

पैलेस रोयले  (Palais royale)


Palais royale 1

पैलेस रोयले भारत के मुंबई शहर के वोर्ली इलाके में स्थित हैं यह आज के समय तक 2022 तक भारत की सबसे ऊँची गगनचुंबी इमारत है इस बिल्डिंग की ऊंचाई 320 मीटर है आजके समय में इसकी कीमत 3000 करोड़ है और आगे चलके इसकी कीमत बढ़ने के आसार है 

पैलेस रोयले का निर्माण 2008 में शुरू हुआ था और यह पूरा बनके 2018 में तैयार हुआ इसको Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai बनाने के इरादे से ही तैयार किया गया था यह आवासीय इमारत है इसमें कुल 88 मंजिल है और एक मंजिल का क्षेत्र फल 310,000 मीटर स्क्वायर है, इसमें कुल 12 लिफ्ट है

यह जगह 2005 में श्री राम मिल्स लिमिटेड के अधिकार में थी इस जगह पर इमारत बनाने की इज़ाज़त 2005 को ही मिली थी और यहाँ पर इमारत बनाने का काम 2008 में शुरू हुआ इस इमारत को 2019 में नीलामी के लिए रखा गया और मई 2019 में इस इमारत को ऑनेस्ट शेल्टर नाम की कंपनी ने 705 करोड़ में खरीदा था, उस समय भी यह एकदम तैयार बिल्डिंग नही थी आजके समय में इस इमारत में 120 अपार्टमेंट है

इस इमारत को राम अर्बन पैलेस रोयले कहके भी संभोधित किया जाता है यह 7 एकड़ से ज्यादा जगह में फैला हुआ है

 

पिरमल अरण्य आरव(Piramal aranya arav)


Piramal aranya arav

यह दूसरी भारत की सबसे ऊंची इमारत यह इमारत भी मुंबई में स्थित है यह हालही में बनी इमारत इसका निर्माण 2022 में ही पूरा हुआ है यह भी एक आवासीय इमारत है

इसकी ऊंचाई 282 मीटर है इस इमारत 84 मंजिल की है इसमें आपको बहुत सी नयी सुविधाए देखने को मिल जाएँगी आटोमेटिक कंट्रोल, ग्लास की बनी दीवार आदि

इसको बिलकुल आजके समय में लोगो की ज़रूरतों का ध्यान रखते हुए बनाया गया है , यह बिल्डिंग आधुनिक तौर तरीकों पर केन्द्रित है

अगर आप इसके बारे में और जानना चाहते है या इसमें क्या क्या सुविधा है जानना चाहते है तो https://piramalaranya-official.com/ पर जाके देख सकते है

 

वर्ल्ड वन (world one)


The World Towers Mumbai

यह अभी तक (2022) की बनी तीसरी इंडिया की सबसे ऊंची इमारत है

  • यह इमारत भी मुंबई में स्थित है
  • इसका निर्माण 2020 में हुआ है
  • इसकी ऊंचाई 280 मीटर है
  • इसमें कुल 76 मंजिल है
  • यह भी आवासीय इमारत है

यह मुंबई के शंकर राव नरम पथ, लोअर परल में स्थित है इसका निर्माण 2011 में शुरू हुआ था और यह 2019 में बनकर तैयार हुआ, इसको 2020 में खोला गया इसमें 76 मंजिल ऊपर की और है और 2 मंजिल नीचें की और अर्थात अंडरग्राउंड हैं इसमें कुल 18 एलीवेटर/ लिफ्ट  लगे है

यह तीन गगनचुंबी टावर को मिलाकर बना है इसको बनवाने में भारत के लखपति लोगो का भी हाथ है और उनका इस बिल्डिंग में शेयर भी है इस बिल्डिंग के बारे में और अच्छे से जानने के लिए आप इस साईट https://www.lodhagroup.in पर जा सकते है यहाँ पर आपको इस इमारत से जुडी हर जानकारी मिल जाएगी

 

वर्ल्ड व्यू (world view)


WorldTowers Diwali light show 01 cLodha Group210108 060133

यह भारत की अभी तक(2022) की चौथी सबसे ऊँची गगनचुंबी इमारत है

  • यह मुंबई में स्थित है
  • इसकी ऊंचाई 277 मीटर है
  • इसका निर्माण 2020 में हुआ था
  • यह एक आवासीय बिल्डिंग है 
  • यह कुल 73 मंजिलों की बनी इमारत है

यह मुंबई शहर के लोअर पनाल परेल में स्थित है इसको बनाने की शुरुआत 2015 में हुई थी और यह 2020 में बनके तैयार हुआ था !

इसे 2020 में ही खोल दिया गया था यह मुंबई में बने वर्ल्ड टावर की लिस्ट की एक इमारत है इसके बारे में आप https://www.lodhagroup.in इस साईट पर जाके और जान सकते है

 

लोधा ट्रम्प टावर (Lodha trump tower)


9850 oth Lodha Trump Tower Elevation Image 1

यह पांचवी भारत की सबसे ऊँची इमारत है

यह लोधा ग्रुप का एक प्रोजेक्ट है जिसमे इस ग्रुप ने गगनचुंबी इमारतों का निर्माण किया यह लोधा पार्क, वर्ली मुंबई में स्थित है इसे 2013 में बनाना शुरू किया गया था और यह 2020 में बनके तैयार हुआ

यह ऐशोआराम के लिए बनाया गया बहुत महँगा और बहुत सारी सुविधाओं से भरपूर टावर है इसको बनाने के लिए कंक्रीट और ग्लास का इस्तेमाल किया गया है इसको इसमें एक कमरे को एक दिन के लिए बुक करने की कीमत 25000 से ऊपर है

  • यह मुंबई में स्थित है
  • यह एक आवासीय बिल्डिंग है
  • इसकी ऊंचाई 268 मीटर है
  • इसमें कुल 76 मंजिलें है
  • यह वोहा की संरचना के हिसाब से बनाया गया है

 

ओमका 1973 टावर A, B और टावर B (Omka tower A, B and B)


Omkar 1973 Towers Lower parel


यह भारत की छेवीं सबसे ऊँची गगनचुंबी इमारत है, यह भी ऊँची ईमारत बनाने का प्रोजेक्ट है

  • यह भी मुंबई शहर में ही स्थित है
  • यह बिल्डिंग 2021 में बनकर तैयार हुई है
  • इसका मालिक ओमकार रेअल्तोर्स एंड देवेलोपेर्स है
  • इसकी ऊंचाई 267 मीटर है
  • यह एक आवासीय इमारत है
  • इसमें कुल 73 मंजिल है

यह तीन टावर से मिलके बना है यह वोर्ली में स्थित है इसका पता ओमकार 1973 नीलम सेंटर एनी बसंत रोड के पास, वोर्ली मुंबई है इसकी कीमत लगभग 10000 करोड़ है यह बुरो की संरचना पर आधारित है

यह तीनो इमारत एक ही आकार में एक ही ऊंचाई की और तीनो 73 मंजिल की है तीनो टावर में नीचे तीन अंडरग्राउंड पार्किग है

 

नाथानी हाइट (Nathani heights)


Nathani height

यह भारत की सातवीं सबसे ऊँची गगनचुंबी इमारत है

  • यह इमारत भी मुंबई में रेलवे स्टेशन के पास है और यह सबसे भीड़-भाड़ वाले इलाके में स्थित है
  • यह 2012 में बनना शुरू हुआ था और 2020 में बनके तैयार हुआ है
  • इसकी ऊंचाई 262 मीटर है
  • इसमें कुल 72 मंजिल है
  • यह एक आवासीय बिल्डिंग है
  • यह थोरोंतों की संरचना पर आधारित है

इसको बनाने का प्रस्ताव 2011 में रखा गया था और 2011 में ही इसको मंजूरी भी मिल गयी थी पर यह 2012 में बनना शुरू हुआ इसका पता जेहंगिर बोमन बेहराम रोड है इसको बनाने के लिए कंक्रीट का इस्तेमाल किया गया है

 

थ्री सिक्सटी वेस्ट टावर (three sixty west tower)


Three Sixty WestMumbai

यह आंठवी भारत की सबसे ऊंची इमारत है

  • यह महाराष्ट्र के शहर मुंबई में स्थित है
  • यह 260 मीटर ऊँचा है
  • यह बिल्डिंग 2021 में बनके तैयार हुई है
  • यह दो टावर से मिलके बना है टावर A की ऊंचाई 260 मीटर है और टावर B की ऊंचाई 255 मीटर है
  • टावर A में 66 मंजिलें है और टावर B 52 मंजिल की है
  • यह एक कमर्शियल(COMMERCIAL) बिल्डिंग है यह एक होटल है
  • यह कोहन पेदेर्सें फॉक्स की ससंरचना पर आधारित है

 

दा 42 (The 42)


42n

जब यह बनके तैयार हुआ था तब यह उस समय की सबसे ऊँची इमारत थी पर उसके बाद बनी इमारतों ने इसको पीछे कर दिया आज ये 2022 में भारत की नौवी सबसे ऊँची गगनचुंबी इमारतों में आता है

  • यह वेस्ट बंगाल के कोलकाता शहर में स्थित है
  • इसकी ऊंचाई 260 मीटर है
  • यह 2019 में बनके तैयार हो चुका था
  • यह एक आवासीय ईमारत है
  • इसकी संरचना में कई बड़े ग्रुप ने मिलके योगदान दिया है
  • यह 65 मंजिलों की बनी ईमारत है

इसका पता जवाहर लाल नेहरु रोड, कोलकाता, वेस्ट बेंगोल है यह कोलकाता की पहली सबसे बड़ी इमारत है

 

 वन अविघना पार्क (One Avighna park)


one avighna park lower parel mumbai avighna india

यह 10 वीं भारत की सबसे ऊँची इमारत है

  • यह दो इमारतों से मिलके बना है जो आपस में जुडी हुई है
  • यह मुंबई शहर के परेल में स्थित है
  • इसकी ऊंचाई 260 मीटर की है
  • इस ईमारत में 64 मंजिल है

यह बहुत ही एशो आराम से भरपूर इमारत है इसका पता कर्री रोड, परेल, मुंबई महाराष्ट्र है इसने कुल 7 पुरस्कार जीते है इसको इसकी बनावट इसमें मौजूद सुविधा और इसकी डिजाईन के लिए पुरस्कार मिले है


भविष्य में बनके तैयार होने वाली गगनचुंबी इमारतें 

बहुत सी ऐसे इमारतें जो आज के समय में बन रही है और भविष्य में बनके तैयार होने वाली है हमने 2025 तक बनके तैयार होने वाली गगनचुंबी इमारतों के बारे में बताया है हमने उन इमारातों के बारे में बताया है जो 2025 तक बन जाएँगी और जिनकी ऊंचाई 250 मीटर से ज्यादा है

ओसियन टावर (ocean tower)

  • जगह – मुंबई (महाराष्ट्र )
  • ऊंचाई – 331 मीटर
  • मंजिल – 74
  • बनके तैयार होने का साल – 2023

ओसियन टावर 2 (ocean tower 2)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 331 मीटर
  • मंजिल – 68
  • बनके तैयार होने का साल – 2025

स्काई लिंक टावर (sky link tower)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 301 मीटर
  • मंजिल – 76
  • बनके तैयार होने का साल – 2023

सुपर टेक सुपर नोवा स्पिरा (super tech super nova spira)

  • जगह – नॉएडा
  • ऊंचाई – 300 मीटर
  • मंजिल – 80
  • बनके तैयार होने का साल – 2022

लोखंडवाला मिनेर्वा (lokhandwala  minerva)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 300 मीटर
  • मंजिल – 79
  • बनके तैयार होने का साल – 2023

इंडिया बुल्स स्काई सुइट्स (indiabulls sky suites)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 291 मीटर
  • मंजिल – 75
  • बनके तैयार होने का साल – 2022 के बाद

सुपर टेक नार्थ ऑय (super tech north eye)

  • जगह – नॉएडा
  • ऊंचाई – 255 मीटर
  • मंजिल – 66
  • बनके तैयार होने का साल – 2022

रुपारेल अरिअना (ruparel  ariana)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 266 मीटर
  • मंजिल – 74
  • बनके तैयार होने का साल -2022

प्रेस्टीज लिबर्टी टावर (prestige liberty tower)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 290 मीटर
  • मंजिल -63
  • बनके तैयार होने का साल – 2025

इंडिया बुल्स  स्काई फारेस्ट (india bulls sky forest)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 281 मीटर
  • मंजिल – 80
  • बनके तैयार होने का साल – 2022

सेसेन (sesen)

  • जगह – मुंबई
  • ऊंचाई – 270 मीटर
  • मंजिल – 67
  • बनके तैयार होने का साल – 2023

 


 

भारत की सबसे ऊंची इमारत कहाँ स्थित है

इतने आर्टिकल को पढने के बाद आप समझ ही गए होंगे की सबसे ज्यादा ऊँची इमारतें कहाँ पर है भारत की ज्यादा गगनचुंबी इमारतें मुंबई में है मुंबई एक शहर है जो महाराष्ट्र राज्य में स्थित है

मुंबई एक ऐसा शहर है जहाँ पर पूरे भारत की 98 प्रतिशत गगनचुंबी इमारतें है यहाँ पर इतनी इमारतें होने के पीछे कई कारण है आइये एक एक करके उन कारणों के बारे में जानते है

भूगोलिक कारण 

यह तीनों तरफ से समुन्द्र से घिरा हुआ है इसलिए इसको और बढ़ा नही सकते इसी कारण जगह बढाने के स्थान पर मंजिल के ऊपर मंजिल की बनावट को अपनाया गया है जिससे ज्यादा से ज्यादा हम रहने या और कार्यों के लिए जगह बना सके इसीलिए यहाँ पर गगनचुंबी इमारतें बनती है

दूसरा भूगोलिक कारण यह है की यहाँ पर भूकंप आने की संभावना बहुत ज्यादा कम है ज्सिके कारण बड़ी बड़ी इमारतों को कोई खतरा नही रहता है और जितना चाहें उतनी ऊंचाई की इमारत का निर्माण कर सकते है

मनोरंजन का केंद्र

मुंबई में फिल्मो, धारावाहिक आदि चीज़ों का केंद्र है जिसके कारण यहाँ ज्यादा लोग रहते है जिससे कारण मुंबई समय के साथ आधुनिक होता जा रहा है जगह ना होने के कारण मंजिल के ऊपर मंजिल बनाने के इलावा और कोई विकल्प नही बचता इसलिए मुंबई में ज़्यादातर बड़ी बड़ी इमारतें देखने को मिलती है

अन्य कारण

और भी बहुत से राजनीतिक, अर्थव्यवस्था अन्य चीज़ों से जुड़े कारण है जिनके कारण मुंबई एक एहम शहर बन जाता है और यहाँ पर लोग भी व्हुत ज्यादा रहते है


FAQs -भारत की सबसे ऊंची इमारत

सवाल : भारत में सबसे ऊँची इमारत कहाँ है और कौन सी है ?

2022 के जुलाई ततक भारत की सबसे ऊँची ईमारत Palais royale है यह महाराष्ट्र के शहर मुंबई में स्थित है

सवाल : भारत की सबसे ऊँची इमारत कितने मंजिल की है ?

भारत की सबसे ऊँची इमारत Palais royale 88 मंजिल की है

सवाल : विश्व की सबसे ऊँची इ मारत का क्या नाम है ?

विश्व की सबसे ऊँची इमारत का नाम बुर्ज खलीफा है यह दुबई में स्थित है

सवाल : 2022 तक भारत की सबसे ऊँची इमारत कौन सी है ?

Palais royale 2022 तक सबसे ऊँची इमारत है

 

conclusion 

आज के इस लेख में हमने Bharat ki sabse unchi building kaunsi hai के बारे में वह सभी जानकारियां एकत्रित की जिन्हे जानना आपके लिए जानना बेहद जरूरी है।

आपको हमाराभारत की सबसे ऊंची इमारत यह लेख कैसे लगा यह निचे कमेंट में जरूर बताये इसके अलवा यदि लेख संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव होंगे तो, कमेंट बॉक्स में जरूर टाइप करें ताकि आगे आने वाले समय में  हम इसी प्रकार के ज्ञानवर्धक लेख हम आपके लिए लाते रहे। धन्यवाद

Leave a Comment