500+ Bade oo ki matra wale shabd – ऊ की मात्रा वाले शब्द एवं वाक्य

Bade oo ki matra wale shabd :अगर आपके घर में भी छोटे बच्चे हैं और आप चाहते हैं कि वह हिंदी भाषा को बहुत ही प्रारंभिक स्तर से सीखे और हिंदी के एक अच्छे ज्ञान को प्राप्त करें तो आप जानते होंगे उन्हें मात्राओं का ज्ञान होना कितना आवश्यक है

और आज के इस अंग्रेजी माध्यम के बढ़ते दौर में अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में हिंदी को इतना ज्यादा मजबूत नहीं कराया जाता है

जिसके कारण बहुत सारे अंग्रेजी माध्यम के बच्चे अपनी हिंदी को इतना अच्छा नहीं बना पाते हैं जितने की हिंदी माध्यम के छात्र।

अगर आपके भी बच्चे अभी छोटी कक्षाओं जैसे कि एलकेजी या यूकेजी में पढ़ रहे हैं, और आप चाहते हैं कि उन्हें सभी मात्राओं का ज्ञान होना चाहिए तो आज के इस लेख में हम आपको उन्हीं सब मात्राओं और साथ ही उस से संबंधित वे सभी जानकारियां देने वाले हैं

जिससे आप अपने बच्चे को हिंदी की मात्राओं में एक अच्छा आधार प्रदान करा सकते हैं।

हम आशा करते हैं यह लेख पढ़ने के आपके बच्चे को उसकी हिंदी की मात्राओं के संबंध में जो भी समस्याएं हैं उससे निजात मिलेगी।

आज के इस लेख में हम बात करेंगे bade oo ki matra wale shabd और साथ ही इसके अनुसार कुछ ऐसे वाक्य भी बनाए गए हैं जो कि ऐसे शब्दों को सीखने और ऐसी मात्राओं को सीखने में आपकी मदद करेंगे।

 

ऊ की मात्रा वाले शब्द एवं वाक्य (Bade OO wale Shabd)

 

Bade oo ki matra wale shabd
Bade oo ki matra wale shabd ka naam 

 

हिंदी की वर्णमाला में मुख्य रूप से अक्षरों को स्वर और व्यंजन के रूप में विभाजित किया गया है, और उनमें भी हिंदी में 11 अक्षरों को स्वर माना गया है

और इसके अतिरिक्त जो भी अक्षर बचते हैं उन्हें व्यंजन माना गया है और इन्हीं सब व्यंजनों और स्वरों की सहायता से हिंदी में शब्दों का निर्माण किया जाता है

और उसके बाद इन्हीं शब्दों से मिलकर अनेक प्रकार के वाक्यों का निर्माण किया जाता है,  परंतु आज का हमारा विषय किसी शब्द या किसी वाक्य से संबंधित नहीं रहने वाला है

क्योंकि आज की इस लेख में हम bade oo ki matra wale shabd को देखना चाहते हैं जो कि हिंदी की प्रारंभिक शिक्षा को जानने के लिए बेहद जरूरी है।

आमतौर पर यह मात्राओं की समस्या उन विद्यार्थियों को आती है जो अंग्रेजी माध्यम में पढ़ रहे हैं और उनकी हिंदी माध्यम की पढ़ाई इतनी अच्छी नहीं रही है।

इसी कारण कई बार उन्हें हिंदी को पढ़ने में भी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे कि वह बड़े ऊ की मात्रा को छोटे उ की मात्रा समझ लेते हैं

या वे कई बार छोटे उ की मात्रा को बड़े ऊ की मात्रा समझ लेते हैं।

इस प्रकार की समस्या हमें बोलने में तो किसी प्रकार की समस्या नहीं देती है, परंतु जब हम इनको लिखते हैं तब यह हमारी भाषा शैली और साथ ही लिखने की शैली को बिगाड़ देती हैं

और ये यह दर्शाता है कि हमारी हिंदी पर इतनी अच्छी पकड़ नहीं है और हम सामान्य से दिखने वाली मात्राओं में भी कितनी बड़ी गलतियां कर रहे हैं

परंतु आज के इस लेख को पढ़ने के बाद आपको इन मात्राओं से संबंधित जो भी संशय आपके मन में हैं वह दूर हो जाएगा और साथ ही आपके बच्चों के मन में भी जो संसय से इसको लेकर हैं वह भी भली-भांति हट जाएगा।

 

छोटे उ और बड़े ऊ की मात्रा वाले शब्द में क्या अंतर है 

bade oo ki matra wale shabd  और वाक्यों को जानने से पहले हमें यह जानना आवश्यक है कि छोटे उ और बड़े ऊ की मात्रा में मुख्यतः क्या अंतर है और यह मात्राएं किस प्रकार से किसी भी शब्द को बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हिंदी में कुल 11 स्वर माने जाते हैं जो कि निम्नलिखित हैं।

 अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ए, ऐ, ओ, औ, अं, अः। 

इनमें कहीं कहीं पर अं और अः को भी हिंदी के स्वरों के रूप में गिना जाता है, और यदि इनको साथ दिन लिया जाए तो हिंदी में स्वरों की संख्या 13 हो जाती है।

इस प्रकार से स्वरों को जानने के बाद हम इनको व्यंजनों के साथ मिलाकर तरह तरह के शब्दों का निर्माण करते हैं

तथा उसके बाद हम तरह तरह के शब्दों को मिलाकर अनेक प्रकार के वाक्यों का निर्माण करते हैं, और इस प्रकार से एक संपूर्ण भाषा का निर्माण विभिन्न प्रकार के स्वरों और व्यंजनों को मिलाकर किया जाता है

और इनमें विभिन्न प्रकार की मात्राओं का अपना एक अहम योगदान होता है क्योंकि बिना मात्राओं के हम अच्छे शब्दों का निर्माण नहीं कर पाएंगे।

छोटे उ की मात्रा व बड़े ऊ की मात्रा।


  • उदाहरण : यह सहतूत का पेड़ कितना बड़ा है।

इस वाक्य में शहतूत में बड़े ऊ की जिस मात्रा का प्रयोग हुआ है, वहां Bade Oo की मात्रा है, जो कि इस शब्द को पूर्ण कर रही है।

अगर हम इसमें से बड़े ऊ की मात्रा को हटा दे तो इसके अर्थ का अनर्थ हो जाएगा

और हम यह समझ नहीं पाएंगे कि वाक्य में यह शब्द क्या कर रहा है ,और इसका वाक्य में क्या अर्थ निकल रहा है।

इस प्रकार से इस उदाहरण द्वारा हम यह समझ गए होंगे कि वाक्य में किसी भी बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग किस हिसाब से किया जाता है

और साथ ही यदि बड़े ऊ की मात्रा को हटा दिया जाए तो हम किसी भी शब्द को नहीं समझ पाएंगे जिसमें कि बड़े ऊ प्रयोग किया गया है।

 उदाहरण : यह राहुल का बड़ा भाई श्याम है। 

उपरोक्त उदाहरण में हम राहुल शब्द में छोटे उ की मात्रा को देख पा रहे होंगे। अगर हम इस राहुल शब्द में से छोटे उ की मात्रा को हटा दें तो हम यह नहीं समझ पाएंगे कि यह शब्द क्या है

और इस शब्द का प्रयोग वाक्य में किस लिए किया गया है और साथ ही हमें राहुल का संबंध स्याम के साथ वाक्य में क्या है, इस बात का भी पता नहीं लगेगा।

इस कारण से हम समझ गए होंगे कि वाक्यों में मात्राओं का कितना बड़ा योगदान रहता है और अगर इन मात्राओं को हटा दिया जाए तो हम किसी भी शब्द का अर्थ नहीं समझ पाएंगे और ना ही उस शब्द का संबंध उस वाक्य के अन्य शब्दों के साथ जोड़ पाएंगे।

 

bade oo ki matra wale shabd in hindi

हमें अगर Bade oo ki matra wale shabd को सही ढंग से समझना है तो इसके लिए हमें इसकी मात्रा से बने कई सारे शब्दों को समझना होगा

और इन शब्दों के द्वारा हम आसानी से इस बड़े ऊ की मात्राओं का पता लगा पाएंगे और यह समझ पाएंगे कि इसका प्रयोग किस तरह वाक्य में किया जाता है।

इसलिए  हमारे द्वारा यहां पर कुल मिलाकर 100+ शब्दों को आपके समक्ष प्रस्तुत किया गया है

जो कि बड़े ऊ की मात्रा से बनाए गए हैं और आपके लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। इतने सारे शब्दों को पढ़कर आप संपूर्ण रूप से सीख जाएंगे की वास्तविकता में बड़े ऊ और छोटे उ की मात्राओ में क्या मुख्य अंतर है।

आप में से बहुत सारे पाठकों को यह शब्द बहुत ज्यादा लग सकते हैं, परंतु इन शब्दों को पढ़ने के बाद आपको किसी अन्य शब्द को पढ़ने की जरूरत नहीं रहेगी जिसमें कि बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग रहता है।

अतः आप इस संपूर्ण रूप से इन शब्दों को पढ़ ले और इनका प्रयोग अपने प्रतिदिन के वाक्यों में जरूर करें ताकि यह शब्द आपको याद हो सके।

शहतूत बालू भालू
मूसल नाखून पूर्व
मजबूत दूत फूटा
टूटा खूटा छूट
सबूत चूड़ा कंप्यूटर
हिंदू बिंदू सिंधू
दूसरी चित्रकूट मूर्ति
सूचनाएं फूलदान खूब
दूदू सूट पूत
छूले तोरू जूनाघाड
जूना जून छू
जूनियर खूदा कूटनीति
भूकंप लूट बूट
कूप रूप लूप
लूंगी भूसा बूजी
सूजी पूंजी थूक
मूत गूदा गूटा
फूटा कूटा मूल
मूसल जूसर लंगूर
अंगूर चूर चूड़ा
अंगूठी अंगूली जरूरी
सूरज सूरजमुकी सूरत
सूतना कसूर सूखा
कूड़ा कूदा कूड़ादान
सालू पतलून बदबू
सरसू सरयू मूजल
मूर्ख सूर्ख मजबूत
डूब भूप धूत
चूक मूल सूल
कूल जूल भूत
दूर फूहड़ फूफा
मूर्ति पूछो चूजा
हूक गूस चूस
मोटू छोटू गूसा
जूट झूठ भूसा
भूख सूख सूने
कालू मूर्ति कूर्क
सूक्त सूक्ति बूचल
भूचाल भूकंप भूल
सूरज सूर्य सूना
तरबूजा खरबूजा तूफान
भूमि काजू भूरा

 

हम आशा करते हैं की इन सभी पांच सौ शब्दों को पढ़ने के बाद आपको यह बड़े ऊ वाले शब्द सही ढंग से समझ आ चुकी होंगी और अब आप यह जान चुके होंगे कि वाक्यों और शब्दों में इस बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग किस प्रकार किया जाता है,  और इसका क्या महत्व होता है।

अब हम देखने वाले हैं उन कुछ महत्वपूर्ण वाक्यो को जिनमें बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग किया जाता है जिससे कि आपको बड़े OO की मात्रा के संबंध में अन्य जो भी समस्याएं हैं वह भी दूर हो जाएगी।

 

bade oo ki matra wale vakya 

हमें अगर हिंदी को सीखना होता है तो हम सबसे पहले हिंदी वर्णमाला को समझते हैं, और उसके बाद हिंदी की मात्राओं को समझते हैं

क्योंकि हम हिंदी की मात्राओं को सही ढंग से समझने के बाद ही शब्दों का निर्माण कर पाते हैं और इन्हीं शब्दों की सहायता से हम विभिन्न प्रकार के वाक्यों का निर्माण भी करवाते हैं।

जैसा कि आप जानते हैं कि इससे पहले हमने बड़े ऊ और छोटे उ की मात्रा में क्या अंतर होता है, इसको जाना और उसके बाद इन मात्राओं का प्रयोग किस हिसाब से करना चाहिए

और उनसे संबंधित कुछ महत्वपूर्ण शब्दों को जाना। अब हम देखने वाले हैं उन कुछ महत्वपूर्ण वाक्यों को जिनमें बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग किया जाता है

और हम इन वाक्यों द्वारा अब यह जान सकते हैं कि वास्तविकता में बड़े ऊ का किसी भी शब्द में क्या महत्व होता है और किसी भी वाक्य में इस मात्रा का प्रयोग किस प्रकार से किया जाता है

अब हम आपके सामने बड़ी ऊ की मात्रा वाले कुल 100 वाक्यों को रखने वाले हैं और इन को पढ़ने के बाद आपको ऊ की मात्रा के संबंध में किसी प्रकार का संशय नहीं रहेगा

हालांकि आप में से बहुत लोग सोच रहे होंगे कि हम इतने सारे वाकयो  का प्रयोग क्यों कर रहे है

परंतु हम आपको बता दें कि जिन वाक्यों को समझने के बाद और इनका अध्ययन करने के बाद आपको इस की मात्रा के संबंध में किसी प्रकार की समस्या नहीं रहेगी,

क्योंकि अगर हम किसी भी चीज को थोड़ा गहराई में पढ़ते है तो वह हमें आसानी से समझ आता है कर परंतु हम आपको बता दें कि इ न वाक्यों को समझने के बाद, और इनका अध्ययन करने के बाद आपको इस उ की मात्रा वाले शब्द के संबंध में किसी प्रकार की समस्या नहीं रहेगी

क्योंकि अगर हम किसी भी चीज को थोड़ा गहराई में पढ़ते हैं तो उससे संबंधित अन्य प्रकार की समस्याएं भी दूर हो जाती है

जैसे कि कई सारे वाक्यों में इसका प्रयोग अलग-अलग प्रकार से किया जाता है, जिसको पढ़ कर आप जान पाएंगे कि हमें भी अपने वाक्यों में इस बड़े ऊ की मात्रा का प्रयोग किस हिसाब से करना चाहिए।

  1. यह राहुल का भाई राजू है।
  2. इस जंगल मे बोहोत सारे भालू रहते हैं।
  3. इस ऑफिस में बहुत सारे अधिकारी घूस लेते हैं।
  4. सऊदी अरब में बहुत बड़े-बड़े खजूर के पेड़ हैं।
  5. हमारे यहां पर माताजी के दर्शन के लिए कपूर की गोली जलाई जाती है।
  6. बहुत सारे कपड़े सूरत से आते हैं।
  7. हमें किसी का हजूर बनने का कोई शौक नहीं।
  8. यह बात तुम जरूर याद रखना।
  9. यह तुम्हारा आभूषण बहुत सुंदर हैं।
  10. इतना भयानक एक्सीडेंट देखकर उसकी आंखों में आंसू आ गए।
  11. हम इस भूमि का अपमान कैसे कर सकते हैं जिस पर हमें जन्म दिया है।
  12. एक छोटी सी बात में कैसे तूल पकड़ लिया।
  13. हमारे यहां तो शुन्य का भी महत्व है क्योंकि भारत में ही शून्य की खोज हुई थी।
  14. आपके मंदिर में भगवान की मूर्ति बहुत ही सुंदर लग रही है।
  15. आपके यहां पर बहुत ज्यादा सूखा पड़ता है इसीलिए यहां पर बहुत ज्यादा कृषि नहीं होती है।
  16. अभी तो शर्मा जी के लड़के ने क्या खूब रंग जमाया है।
  17. यहां पर बाग बगीचों में बहुत सारे फूल खिले हुए।
  18. वह लड़का बहुत ही गहराई में डूब गया था इसलिए उसे कोई बचा नहीं पाया।
  19. हमारे यहां पर महात्मा गांधी को बापू भी कहा जाता हैं।
  20. यह समुंदर के बीचोंबीच एक छोटा सा टापू कैसे बन गया होगा।
  21. यहां मिठाइयों की खुशबू मुझे मंत्र मुक्त कर देगी।
  22. आपके नाखून इतने बड़े हुए हैं, क्या आप ने इन पर गौर नहीं किया।
  23. इस जंगल में बहुत बड़े बड़े खूंखार जानवर रहते हैं।
  24. हमारे साथ घूमना फिरना राकेश को अच्छा लगता है।
  25. अगर आपको भूगोल विषय में रुचि है तो आप अपने बच्चे को भूगोल विषय ही दिलवाए।
  26. बाहर जाकर देखो तो मानो सूरज आग उगल रहा है।
  27. आजकल तो सभी चीजें गूगल पर उपलब्ध होने के कारण बहुत ज्यादा आसानी हो गई है।
  28. हमारे समय में बड़े-बड़े सूरमा भी इनके हाथों से हार जाया करते थे।
  29. यह मसूर की दाल क्या भाव है।
  30. तुम्हारे शरीर से बहुत ज्यादा बदबू आ रही है, क्या तुमने स्नान नहीं दिया क्या।
  31. हमारी भारतीय वायु सेना में बहुत बड़े-बड़े लड़ाकू विमान शामिल हो चुके हैं इसलिए इन्हें हराना बहुत मुश्किल है।
  32. अगर तुम्हें हमारी यह शर्त मंजूर है, तो तुम हमारे साथ आ सकते हो।
  33. यह पूनम का चांद कितना सुहावना लग रहा है।
  34. बहुत ज्यादा पैदल चलकर उसके पैरों में सूजन आ चुकी है।
  35. अगर आपको भी सब कुछ बनना है तो अपने जीवन में सपूतो जैसे कार्य करो।
  36. हमें जब यह सूचना मिली तो हम तो हक्के बक्के रह गए।
  37. हमारे द्वारा यहां वहां रुकना अच्छा नहीं लगता।
  38. अगर आप अपनी छाती को फूला रहे हैं तो यह निश्चित ही बड़ी होगी।
  39. आप की पतलून तो बहुत ही ज्यादा ढीली लग रही है, महोदय।
  40. हमारे यहां पर एक ऐसा जादूगर आया कि उसने एक लड़की को ही गायब कर दिया।
  41. यह अमरूद का पेड़ बहुत बड़ा हो चुका है।
  42. यह चबूतरा यहां पर तब से है जब मैं एक छोटा बच्चा था।
  43. पुराने समय में हर प्रकार के संबंध और संदेश राजदूतों द्वारा भेजे जाते थे।
  44. यह खरबूजा बहुत ज्यादा मीठा लग रहा है।
  45. यह तरबूज बहुत ज्यादा फिका लग रहा है।
  46. यह कबूतर हमारी बालकोनी पर कैसे आया।
  47. हर किसी को हर किसी की जरूरत रहती है।
  48. हमारी कई ऐसी मजबूरियां होती है जो कि हमें कुछ ऐसा करने के लिए मजबूर कर देती हैं।
  49. हमारे द्वारा जिंदगी में तभी आगे बढ़ा जा सकता है जब हम किसी भी समस्या के सामने मजबूत बनकर खड़े रहे।
  50. राजपूतों को छत्रियता का धर्म अपने जन्मजात से मिला।
  51. अगर राम ने गलती की है तो इसमें शायाम का क्या कसूर है।
  52. विद्यार्थियों द्वारा अपने स्कूल को हमेशा की तरह सजाया गया।
  53. अगर हम अपना होमवर्क पूरा नहीं करेंगे तो अध्यापक द्वारा हमें डांट पड़ेगी।
  54. यह संपूर्ण जानकारी आपके लिए जानना जरूरी है।
  55. उसने सभी फलों को चाकू से काटा।
  56. पुराने समय में सभी वस्तुओं को तराजू में तोला जाता था।
  57. राजस्थान में बहुत ज्यादा सूखा पड़ता है।
  58. यहां पर आपको बहुत सारा मूली के पौधे मिलेंगे।
  59. यहां पर भगवान की पूजा करनी चाहिए परंतु लोगों द्वारा इसे एक बातों का मंदिर बना दिया गया है।
  60. यह हमारे पूजनीय पिताजी है जिनके द्वारा इस कार्य को अंजाम दिया गया हो।
  61. आज वर्तमान समय में सभी कंप्यूटर के बिना अधूरे हैं।
  62. अगर हमें इडली बनानी है तो हमारे पास में एक सूची होनी चाहिए।
  63. हमारी बहू बेटी के साथ किसी प्रकार का अन्याय सहन नहीं किया जाएगा।
  64. यह पूजा का धार्मिक स्थल है, इसे गंदा ना करें।
  65. हमारे यहां पर जून माह में बहुत ज्यादा गर्मी पड़ती हैं जिस कारण अधिकतर लोग तो अपने घरों से बाहर भी नहीं निकलते हैं।
  66. हमारे यहां पर बहुत ज्यादा चूहे हो गए हैं इस कारण इन्हें पकड़ लेना जरूरी है।
  67. अगर हमें सूट का कपड़ा पहना है तो इसके लिए ज्यादा रुपए देंगे।
  68. हमारे द्वारा दी गई सभी सूचनाएं सही है और यह प्रमाणित करने के बाद ही प्रसारित किया गया है।
  69. इस प्रयोग को जरूर आजमाना चाहिए क्योंकि क्या पता यह काम कर जाए।
  70. हमारे यूजर्स को अपनी वेबसाइट के बारे में पता तो होना चाहिए वरना वह किस हिसाब से इसका प्रयोग करेंगे।
  71. यहां पर बहुत ज्यादा बदबू आ रही है इसलिए मैं यहां पर 1 मिनट भी खड़ा नहीं रह सकता।
  72. आपकी फूलदान में बहुत अच्छे अच्छे फूल रखे हुए।
  73. इस बटन को दबाते ही यह ऐसी चालू हो जाएगा।
  74. जैसा की कहावत में कहा गया है एक एक बूंद से घड़ा भरता है।
  75. यह रूसी हथियारों द्वारा मान्यता प्राप्त है।
  76. अगर आप अपने जूनियर्स से हार जाते हैं तो इससे ज्यादा शर्मनाक बात क्या होगी।
  77. आपने यूरोप की प्रगति को नहीं देखा।
  78. हमारे द्वारा तो एक प्रकार की सूची बनाई गई थी।
  79. यहां पर सभी चीजें कूटनीति से नहीं चलती है।
  80. अगर आप इसको शून्यकाल में उठाए तो अच्छा होगा।
  81. अगर किसी भी सूट में किसी प्रकार की परेशानी हो तो हम उन से इसकी शिकायत कर सकते हैं।
  82. आपके माथे से बहुत ज्यादा खून बह रहा है।
  83. हमारे द्वारा तो बहुत ही सोच समझकर इस गूदे दार सब्जी को खरीदा गया है।
  84. अगर आप अपने किसी दूत को भी भेजेंगे तो मैं इनके साथ नहीं जाऊंगा।
  85. हमारे द्वारा यह सब जानबूझकर की गई।
  86. वह इतना भारी था कि उसके पड़ते ही पूरा हॉल गूंज उठा।
  87. यह जून का महीना बहुत ज्यादा भारी होने वाला है।
  88. यह भगवान का रूद्र रूप है।
  89. हमें अपने गेहूं अनाज का प्रयोग सोच समझकर करना चाहिए।
  90. अगर हम तुम्हें लूटना चाहते तो अभी लूट लेते हैं।
  91. इसको तो यह भी नहीं पता है कि यह सब कुछ बातें कहकर भी फूंक जड़ गया।
  92. हमारे द्वारा इस प्रकार की फूहड़ बातें नहीं की जाती है।
  93. अगर हमारे द्वारा यह झूठ बोला जा रहा है तो फिर आप बता दीजिए कि सच क्या है।
  94. यह खूनी हत्यारा हमारे पास भी आ पहुंचा था।
  95. ऐसा भूकंप मैंने जिंदगी में नहीं देखा।
  96. हमने पब्लिक पार्क में भालू को देखा।
  97. यह सूर्य की गर्मी तो जान निकाल देगी।
  98. यह शालू का सलवार सूट है।
  99. यह कूड़ा तो बाहर फेंक देना चाहिए था।
  100. राजस्थान के दाल, बाटी, चूरमा बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है।

 

conclusion 

आज के इस लेख में हमने ऊ की मात्रा वाले शब्द एवं वाक्य के बारे में वह सभी जानकारियां एकत्रित की जिन्हे जानना आपके लिए जानना बेहद जरूरी है।

इसके अलवा यदि आप को व्याकरण संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करनी है तो आप Nolejtak के व्याकरण श्रेणी में पब्लिश किये लेख को हिंदी भाषा में विस्तार में पढ़ सकते है

आपको हमारा Bade oo ki matra wale shabd लेख कैसे लगा यह निचे कमेंट में जरूर बताये इसके अलवा यदि लेख संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव होंगे तो, कमेंट बॉक्स में जरूर टाइप करें ताकि आगे आने वाले समय में  हम इसी प्रकार के ज्ञानवर्धक लेख हम आपके लिए लाते रहे। धन्यवाद

Leave a Comment