पाकिस्तान की जनसंख्या कितनी हैं (2022) Pakistan ki jansankhya kitni Hai

Pakistan ki jansankhya kitni hai : पाकिस्तान दक्षिण एशिया का एक देश है | जिसकी आबादी समय के साथ बढती ही जा रही है | 2022 में पाकिस्तान की आबादी में दुनिया का पांचवा सबसे आबादी वाला देश है

1947 के बंटवारे के बाद इसकी आबादी 3.3 करोड़ थी जो की बढ़ते-बढ़ते 2022 में 22.88 करोड़ हो गयी है

पाकिस्तान दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मुसलमानों का देश है| पाकिस्तान 2022 में विष्व आबादी में 2.83% का योगदान कर रहा है|

पाकिस्तान एक धार्मिक तथा शक्ति में मध्य स्तर का देश है | पाकिस्तान दुनिया की छठी सबसे बड़ी स्थायी सशस्त्र सेना है। यह एक परमाणु- हथियार घोषित राज्य है | इसकी विकास-अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं तेज़ी से बढ़ रही है

आज के लेख में हम Pakistan ki jansankhya kitni Hai इस विषय पर विस्तार में चर्चा करेंगे

इसके अलवा पाकिस्तान के अन्य शहरों और उनके जनसंख्या पर नज़र डालेंगे तो यदि आप भी इस विषय के बारे में विस्तार में जानकारी प्राप्त करना चाहते है

तो इस लेख को शुरवात से अंत जरूर पढ़े क्यों की इस लेख के बाद आप को अन्य किसी वेबसाइट पर पाकिस्तान के जनसंख्या संबंधित जानकारी खोजने की जरूरत नहीं पड़ेगी

 

पाकिस्तान की जनसंख्या कितनी हैं (2022) Pakistan ki jansankhya kitni Hai

 

Pakistan ki jansankhya kitni Hai
Pakistan ki jansankhya kitni Hai

 

हमने पाकिस्तान की जनसँख्या में 1947 से लेकर 2022 तक हुए परिवर्तनों को 2 साल के अंतराल में दर्शाया हैं|

साल जनसंख्या
2022 22 करोड़ 88 लाख (22.88 crores)
2020 22 करोड़ 9 लाख (22.09 crores)
2018 21 करोड़ 22 लाख (21.22 crores)
2016 20 करोड़ 36 लाख(20.36crores)
2014 19 करोड़ 53 लाख(19.53 crores)
2012 18 करोड़ 73 लाख(18.73 crores)
2010 17 करोड़ 94 लाख(17.94 crores)
2008 17 करोड़16 लाख(17.16 crores)
2006 16 करोड़ 4 लाख(16.04 crores)
2004 15 करोड़ 67 लाख(15.67 crores)
2002 14 करोड़ 95 लाख(14.95 crores)
2000 14 करोड़ 23 लाख(14.23 crores)
1998 13 करोड़ 48 लाख(13.48 crores)
1996 12 करोड़ 73 लाख(12.73 crores)
1994 12 करोड़ 4 लाख(12.04 crores)
1992 11 करोड़ 39 लाख (11.39crores)
1990 10 करोड़ 76 लाख(10.76crores)
1988 10 करोड़ 14 लाख(10.14 crores)
1986 9 करोड़ 52 लाख(9.52crores)
1984 8करोड़ 92लाख (8.92 crores)
1982 8 करोड़ 34 लाख(8.34 crores)
1980 7 करोड़ 81 लाख(7.81 crores)
1978 7 करोड़ 32 लाख(7.32 crores)
1976 6 करोड़ 88 लाख(6.88 crores)
1974 6 करोड़ 49 लाख(6.49 crores)
1972 6 करोड़ 14 लाख(6.14 crores)
1970 5 करोड़ 81 लाख (5.81 crores)
1968 5 करोड़ 51 लाख(5.51 crores)
1966 5 करोड़ 23 लाख(5.23 crores)
1964 4 करोड़ 96 लाख(4.96crores)
1962 4 करोड़ 72 लाख(4.72crores)
1960 4 करोड़ 05 लाख(4.5 crores)
1958 4 करोड़ 30 लाख(4.30 crores)
1956 4 करोड़ 12 लाख(4.12 crores)
1954 3करोड़ 97 लाख(3.97 crores)
1952 3 करोड़ 85 लाख(3.85crores)
1950 3 करोड़ 75 लाख(3.75crores)
1948 3 करोड़ 37 लाख(3.37crores)
1947 3 करोड़ 03 लाख (3.3crores)

 

पाकिस्तान की जनसँख्या उसके प्रान्तों तथा प्रदेशो में विभाजित है|

 

Pakistan ki jansankhya kitni Hai

 

  • बलोचिस्तान ,पंजाब, सिंध, आज़ाद कश्मीर, ख्य्बेर पख्तुन्ख्वा, गिलगित बल्तिस्तान में बंटा हुआ हैं|
  • इन प्रान्तों और विदेशो के अलग अलग शहरों में पाकिस्तान की जनसँख्या बसी हुई है| हमने प्रान्तों और विदेशो के हिसाब से शहरों की जनसँख्या को प्रदर्शित किया हैं|

  • बलोचिस्तान (Balochistan) की जनसंख्या = 1.23 करोड़

बलोचिस्तान की कुल 1.23 करोड़ आबादी में से, लगभग 52% आबादी बलूच है और 36% पश्तून हैं जबकि शेष 12% में छोटे समुदाय शामिल हैं|

बलोचिस्तान की राजधानी कुएत्ता है | कुएत्ता बलोचिस्तान का सबसे बड़ा और सबसे आबादी वाला प्रान्त है |

  • बलोचिस्तान के कुछ शहर
नंबर शहर जनसँख्या
1. तुर्बत(turbat) 103,952
2. खुजदार(khuzdar) 142,460
3. हब (Hub) 97,602
4. चमन(chaman) 100,235
5. ग्वदर(gwadar) 67,127
6. कुएत्ता(quetta ) 865,136

 


सिंध (Sindh) की जनसंख्या= 4.79 करोड़

यह प्रांत अपनी विशिष्ट संस्कृति के लिए जाना जाता है | तथा यह प्रान्त सूफीवाद से काफी प्रभावित है, जो हिंदुओं और मुसलमानों दोनों के लिए एक पहचान का एक महत्वपूर्ण मार्क है।

कराची इसकी राजधानी है | कराची में ही सबसे ज्यादा आबादी भी है |

  • सिंध के कुछ शहर
नंबर शहर जनसँख्या
1. कराची(karachi) 11,234,942
2. हैदराबाद(hyderabad) 1,403,786
3. सुक्कुर(sukkur) 403,673
4. लरकाना(larkana) 325,153
6. कोटरी(kotri) —–
5. नवाबशाह(navabshah) 220,283
7. मिरपुर खास(mirpur khas) 221,913
8. शिकारपुर(shikarpur) 160,312
9. जकोबाबाद(jacobabad) 165,694
10. खैरपुर(khairpur) 122,933
11. दादू(dadu) 118,587
12. तंडोअल्लाहयर(tando allahyar) 103,347
13. तंडो अदम(tando adam) 347124
14. उमरकोट(umerkot) 42,176
15. शहदाकोट(shahdakot) 71,983
16. बदिन(badin) 73,747
17. घोटकी(ghotki) 61,836
18. दहार्की(daharki) 40,181
19. तंडो मुहम्मद खान (tando muhammad khan) 74,691
20. मिरपुर मठेलो(mirpur mathelo) 49,430
21. कंधकोट(kandhkot) 80,273

 


पंजाब (Punjab) की जनसंख्या =11 करोड़

पंजाब अपनी समृद्धि के लिया जाना जाता है | पाकिस्तानी प्रान्त में गरीबी की दर सबसे कम है | लाहौर इसकी राजधानी है तथा इस प्रान्त की सबसे ज्यादा आबादी लाहौर में है|

  • पंजाब के शहर
नंबर शहर जनसँख्या
1. भलवाल(bhalwal) 80,273
2. नरोवल(narowal) 74,974
3. जटोई(jatoi) 50,058
4. सम्ब्राइल(sambrial) 64,012
5. आरिफ वाला(arif wala) 95,161
6. भक्कार(Bhakkar) 89,834
7. हसिलपुर(hasilpur) 91,553
8. लोध्रन(lodhran) 85,381
9. मिंवाली(mianwali) 105,157
10. खुशाब(khushab) 114,750
11. ताक्सिला(taxila) 95341
12. लाय्याह(Layyah) 92,374
13. वजीराबाद(wazirabad) 117,850
14. कोटअददु(kot adu) 103,918
15. अहमदपुर ईस्ट(ahmadpur east) 126,236
16. कमालिया(kamalia) 125,262
17. गुजरांवाला(gujranwala) 1,488,711
18. चकवाल(chakwal) 105,976
19. फेरोजवाला(ferozwala) 71,277
20. कोट अब्दुल मालिक(kot abdul malik) 77,330
21. वेहारी(vehari) 121,375
22. अत्तोच्क(attock) 91,475
23. चिष्टियन(chishtian) 133,633
24. जरंवाला(jaranwala) 135,801
25 समुंदरी(samundri) 71,124
26 बहावलनगर( bahawal nagar) 144,127
27. मुरीदके(muridke) 142,728
28 गोजरा(gojra) 151,127
29 दसका(daska) 133,424
30. पक्पत्तन(pakpattan) 141,694
31 खानपुर(khanpur) 154,804
32 झेलम(Jhelum) 191,719
33 मंदी बहाउद्दीन(mandi Bahauddin) 127,956
34 कमोके(kamoke) 198,472
35 चिनिओत(chiniot) 222,525
36 मुज्ज़फरगढ़(Muzaffargarh) 159,900
37 खानेवाल(Khanewal) 174,782
38 बुरेवाला(burewala) 196,991
39 सादिकाबाद(sadiqabad) 186,017
40 हफिज़बाद(hafizabad) 171,172
41 ओकारा(okara) 265,291
42 कसुर(kasur) 322,481
43 वाह कैंटोनमेंट(wah cantonment)  260,842
44 साहिवाल(Sahiwal) 274,444
45 गुजरात(gujrat) 330,987
46 डेरा घज़ी खान(dera ghazi khan) 1,403,786
47 झांग(jhang) 385,637
48 शेइखुपुरा(sheikhupura) 368,413
49 रहीम यार खान(rahim yaar khan) 306,990
50 सिआल्कोट(sialkot) 554,075
51 सरगोधा(sargodha) 602,631
52 बहावलपुर(bahawalpur) 536,845
53 मुल्तान(multan) 1,573,991
54 लाहौर(lahore) 6,761,251
55 फैसलाबाद(faisalabad)     2,640,697
56 रावलपिंडी(rawalpindi) 1,853,175
57 गुजरांवाला(gujranwala) 1,488,771

 


ज़ाद कश्मीर(Azad Kashmir) की जनसंख्या =  40 लाख

मुज़फराबाद इस प्रान्त की राजधानी है| यह प्रान्त कश्मीर की सुन्दरता का प्रतीक है | मुज़फराबाद इस प्रान्त का सबसे आबादी वाला शहर है|

  • आज़ाद कश्मीर के शहर
 नंबर शहर जनसँख्या
1. मुज़फराबाद(muzafarabad) 159,900
2. मिरपुर(mirpur) 124,352

 


ख्य्बेर पखतुन्ख्वा (Khyber Pakhtunkhwa) की जनसंख्या = 3.5 करोड़

यह पाकिस्तान की तीसरी सबसे बड़ी प्रान्त है तथा यह सबसे महत्वपूर्ण है आर्थिक मामले में भी | पेशावर इस प्रान्त की राजधानी है ठाठ सबसे ज्यादा आबादी भी इस प्रान्त की इसी शहर में है|

  • ख्य्बेर पखतुन्ख्वा के कुछ शहर
नंबर शहर जनसँख्या
1. पेशावर(peshawar) 1,326,148
2. मर्दन(mardan) 331,837
3. मिंगोरा(mingora) 235,417
4. कोहत(kohat) 169,033
5. डेराइस्मेइल खान(dera ismeil khan) 121,922
6. अब्बोताबाद(abbotabad) 143,028
7. मनसेहरा(mansehra) 70,294
8. स्वाबी(swabi) 106,543
9. नोवशेरा (nowshera) 120,668
10. चरसद्दा(charsadda) 113,691

 


गिलगित बल्तिस्तान (Gilgit Baltistan) की जनसंख्या  =  8 लाख

गिलगित इस प्रान्त की राजधानी है | तथा इस प्रान्त का सबसे ज्यादा आबादी  वाला शहर भी गिलगित ही है |

  • गिलगित बल्तिस्तान के कुछ   शहर
नंबर शहर जनसँख्या
1. गिलगित(Gilgit)     —
2. स्कार्दू(Skardu) 130,030
3. खाप्लू(Khaplu) 126,627
4. दम्बुदास(Dambudas) 106,102

 

प्रशासनिक प्रभाग के अनुसार आबादी  का विभाजन

नंबर प्रान्त राजधानी जनसँख्या राजधानी की
1. पंजाब(   Punjab   ) लाहौर  (lahore) 110,126,285
2. सिंध   (Sindh) कराची(karachi) 110,126,285
3. ख्य्बेरपखतुन्ख्वा   पेशावर   (peshawar) 40,525,047
4. गिलगित बल्तिस्तान गिलगित(gilgit) 1,800,000
5. आज़ाद कश्मीर मुज़फ्फराबाद(muzafarabad) 4,567,982
6. इस्लामाबाद  (इस्लामाबा कैपिटल(capital) 2,851,868

 

पाकिस्तान में कई भाषाएँ बोली जाती है

6 भाषाओँ से ज्यादा भाषाएँ पाकिस्तान में बोली जाती है तथा प्रान्तों की भाषाएँ अलग होती है| पाकिस्तान में उर्दू मात्र भाषा है ,75 प्रतिशत से ज्यादा पाकिस्तान में रहने वाले लोग उर्दू समझते और बोलते हैं

इंग्लिश एक  अधिकारिक भाषा समजी जाती है तथा इंग्लिश का प्रयोग सरकार  तथा व्यापार में किया जाता है|75 % से ज्यादा लोग उर्दू समझते है पर इसको अपनी भाषा के जिसे  प्रयोग सिर्फ 7 परक% लोग करते है|

भाषा बोले जाने का प्रतीशत
पंजाबी(punjabi) 38.78%
पाश्तो(pashto) 18.24%
सरीकी(saraiki) 12.19%
सिन्धी(sindhi) 14.57%
उर्दू(urdu) 7.08%
बलोची(balochi) 3.02%
हिंद्को(hindko) 2.24%
पहाड़ी पोथ्वारी(pahadi-pothwari) 1.82%
ब्राहुई(brahui) 1.24%

 

धर्म – पाकिस्तान में लगभग सभी लोग मुस्लिम धर्म का अनुसरण करते है|मात्र कुछ लोग ही हिन्दू धर्म मानते है | मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोग 97.5% हैं, तथा हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग 3.6 % हैं|

पाकिस्तान की जनगणना  के अनुसार पाकिस्तानी आबादी का धार्मिक विभाजन इस प्रकार है:

उर्दू और फ़ारसी में पाकिस्तान नाम का शाब्दिक अर्थ है “शुद्ध की भूमि” या “पवित्रता की भूमि”।

धर्म धर्म का अनुसरण करने वाले लोग
मुसलमान 200,362,718
हिन्दू 4,444,870
अहमदिया 2,642,048
अन्य सभी 43,253

 

पाकिस्तान की जनसँख्या के लागातर बढ़ने का कारण

पाकिस्तान  में शादी ज़ल्दी कर दी  जाती है तथा 2 से ज्यादा बच्चे होने पर भी रोक नही है |

यहाँ पर लोग ज्यादा बच्चे होने से परेशान नही होते | आम तौर पर हर मुस्लमान की 4 या 4 से अधिक औलाद होती है| जानकारी की कमी होने के कारण यहाँ के लोग गर्भनिरोधक  दवैया तथा उपाय भी नही करते

एक से ज्यादा शादी करना या एक से ज्यादा बार शादी करना भी आम है| पाकिस्तान की महिलाये ज़्यादातर निरछित है जिस लिए वेह अपने  लिए कदम भी नही लेती |

नीचे हमने कुछ कारण दिए है :


  • उच्च प्रजनन छमता
  • कम गर्भनिरोधिक प्रसार दर
  • मृत्तु दर में गिरावट
  • पप्रारंभिक विवाह
  • गरीबी
  • विशेष रूप से महिलाओं की निरक्षरता
  • महिला सशक्तिकरण की कमी
  • धार्मिक बाधाएं
  • विश्वाश
  • रीति -रिवाज़
  • परम्पराएं

 

पाकिस्तान की जनसँख्या के  बारे में कुछ तथ्य

  • पाकिस्तान को आधिकारिक तौर पर पाकिस्तान का इस्लामी गणराज्य भी कहा जाता हैं|
  • वृद्धि दर =  95% (2022 )
  • जन्म दर = 26.48 जन्म 1,000 आबादी(2022 )
  • मृत्यु दर = 6.02 मौतें / 1,000 आबादी(2022 )
  • उपजाऊपन दर =3.46 बच्चे जन्म/औरत (2022 )
  • अप्रवास की दर = 0.96 प्रवासी / 1,000 आबादी (2022)
  • पाकिस्तान ने पिछले एक दशक में अपनी वैज्ञानिक उत्पादकता में चार गुना वृद्धि देखी है, जो 2006 में प्रति वर्ष लगभग 2000 लेखों से बढ़कर 2015 में 9,000 से अधिक लेखों तक पहुंच गई। पाकिस्तान के उद्धृत लेख को ब्रिक देशों की तुलना में उच्च बनाना।

 

दुनिया भर में पाकिस्तानी भरे हुए है

मुस्लिम1950 से ही एक जगह से दूसरी जगह अर्थात एक देश से दुसरे देर विस्थापित होते रहे है| विस्थापित लोग आम करके कराची और सिंध प्रान्तों में बस गए है

युद्ध के समर बहुत सरे अफगानी लोगो को ज़बरदस्ती मुसलमान बनाया गया था| बंगाल और बर्मीज़ के प्रवासी भी पाकिस्तान में एके बसे है|तथा बहुत सारे पाकिस्तान अपना देश छोड़ के और देह्स्प में भी बसे है|

नंबर देश पाकिस्तान के अप्रवासी
1 सऊदी अरबिया 4,000,000
2 यूनाइटेड अरब एमिरातेस 1,600,000
3 यूनाइटेड किंगडम 1,200,000
4 कनाडा 600,410
5 कुवैत 156,300
6 दछिणी अफ्रीका 180,000
7 ओमेन 385,0001
8 ऑस्ट्रेलिया 61,913
9 जर्मनी 179,668
10 क़तर 52,5001
11 फ्रांस 50,000
12 नॉर्वे 39,257
13 डेनमार्क 21,000
14 नेव्ज़ालैंड 10,000
15 आयरलैंड 9,501

 

FAQs –  Pakistan ki jansankhya kitni Hai

सवाल : पाकिस्तान में हिन्दुओ की जनसँख्या कितनी है?

पाकिस्तान में हिन्दुओ की जनसँख्या 4,444,870 है|

सवाल : 947 में पाकिस्तान की जनसँख्या कितनी थी?

1947 में पाकिस्तान की जनसँख्या 3.3 करोड़ थी|

सवाल : 1947 से 2022 तक पाकिस्तान की जनसँख्या में कितना फरक आया है?

पाकिस्तान की जनसँख्या  1947 से 19 करोड़ बढ़ी है 2022 तक|

सवाल : पाकिस्तान में किस भगवान की पूजा की जाती है?

पाकिस्तान में बहुत सारे धर्म का अनुसरण करते है,हिन्दुओ में भगवान् की पूजा करते है तथा मुसलमान अल्लाह को मानते है|

सवाल : विष्व की जनसँख्या कितनी है?

विष्व की जनसँख्या 7.9 अरब है|

सवाल : पाकिस्तान कितने प्रान्तों तथा प्रदेशो में विभाजित है ?

पाकिस्तान 4 प्रान्तों ,एक राजधानी छेत्र और प्रसाशिक कबालियों में विभाजित है|

सवाल : भारत की आबादी कितनी है?

इंडिया की आबादी 2022 में 140 करोड़ है|

सवाल : भारत की जनसँख्या 1947 में कितनी थी?

भारत की जनसँख्या 1947 में 34 करोड़ थी|


Conclusion

इस ब्लॉग लेख में आपने Pakistan ki jansankhya kitni Hai  बारें में जाना। आशा करते है आप पाकिस्तान की जनसंख्या(लोकसंख्य) कितनी हैं का हिन्दी मे क्या अर्थ होता है की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

अगर आपका इससे संबन्धित किसी भी तरह का सवाल है तब नीचे कमेन्ट में पूछ सकते है जिसका जवाब जल्द से जल्द दिया जायेगा।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी शेयर करना चाहिए तो इसे सोश्ल मीडिया पर सबके साथ इसे साझा अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस लेख को पढ़ने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

Leave a Comment