संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना कब हुई (Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui)

sanyukt rashtra sangh ki sthapna kab hui : आज का हमारा विषय बड़ा ही रोचक और जानकारी पूर्ण है जिसे जानना आपके लिए बेहद जरूरी है क्योंकि आप सभी को पता है कि वर्तमान विश्व की स्थितियां किस प्रकार से दिन ब दिन बिगड़ती जा रही हैं

और किस प्रकार से वैश्विक शांति और सद्भाव के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। चाहे बात की जाए अफगानिस्तान की या युक्रेन की आदि सभी जगह पर वैश्विक संगठन केवल मूक दर्शक की तरह दिखाई दे रहे है, तो शुरू करते हैं आज का हमारा विषय “ संयुक्त राष्ट्र संघ की भूमिका और स्थापना कब हूई

 

Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui

Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui
Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui

 

संयुक्त राष्ट्र संघ को इंग्लिश में (United Nations organisation) कहा जाता है जिसे संक्षेप में UNO नाम से जाना जाता है


  • UNO की स्थापना : 24 OCTOBER 1945
  • UNO की स्थापना का स्थान : सैन फ्रैंसिस्को (USA)
  • UNO के सदस्य : 193

1945 मे 50 देशों के प्रमुखों ने मिलकर एक प्रारूप चार्टर पर सैन फ्रांसिस्को मे साइन किए। जिस दिन ये ड्राफ्ट पर सहमति बनी वह दिन था 26 जून 1945

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि पोलैंड ने इस चार्टर पर बाद मे साइन किए और UNO का संस्थापक सदस्य बना।

आप सोच रहे होंगे कि ये UNO चार्टर क्या होता है तो दोस्तो इस मे UNO के सिद्धांत और कानूनों को वर्णित किया गया है

अर्थात UNO किस प्रकार से कार्य करेगा और इसकी कार्यशैली क्या होगी इस बारे मे सारी जानकारी हमे इसी चार्टर से प्राप्त होती है।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ की के प्रमुख अंग 

 1. महासभा 

  • सभी UNO सदस्य राष्ट्र इसके भी सदस्य होते हैं।
  • हर साल सितंबर माह में इसका सम्मेलन आयोजित किया जाता है।
  • UNO महासभा मे अंतर्राष्ट्रीय शांति, सुरक्षा, नए सदस्यों देशों और बजट पर चर्चा की जाती हैं।

2. सुरक्षा परिषद 

  • इसमें हर सदस्य के लिए एक मत निश्चित होता है।
  • UNO के चार्टर के अनुसार इसमें कुल 15 सदस्य होते हैं।
  • इन 15 सदस्यों मे से 5 स्थाई और 10 अस्थाई सदस्य होते हैं।
  • स्थाई सदस्यों के पास वीटो पावर होता है जो कि एक निर्णायक भूमिका निभाता है जबकि अस्थाई सदस्य का कार्यकाल 2 साल होता है।
  • निम्न 5 सदस्यों को वीटो पावर हासिल है।
  1. रूस | 2. फ्रांस।  3. चीन।    4. अमेरिका।  5. UK

 

3. आर्थिक और सामाजिक परिषद 

  • इसमें कुल 54 राष्ट्र शामिल हैं।
  • विकास के लक्ष्यों को लागू करने में ये संस्था एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।
  • ये सुविकास हेतु एक केंद्रीय मंच है।
  • आर्थिक और सामाजिक परिषद वैसे तो एक स्थाई संगठन है पर इसके एक तिहाई सदस्य हर साल हटाएँ जाते हैं।

 

4. न्यास परिषद 

  • ये सुरक्षा परिषद के 5 स्थाई सदस्यों से मिलकर बना एक संगठन है।
  • इसका उद्देश्य था न्यास क्षेत्रो की आजादी या सेल्फ गर्वनमेंट की स्थापना करना था, न्यास क्षेत्र वे क्षेत्र होते हैं जिन पर किन्ही अन्य देशों का अधिकार होता है।
  • UNO की आखरी न्यास पलाऊ द्वीप (US) था जिसकी आजादी के साथ ही इसका अर्थ समापन हो गया।

 

5. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट 

  • इसकी स्थापना हैंग में पीसप्लेस मे की गई है जोकि नीदरलैंड की राजधानी है।
  • इसके अलावा सभी UNO के सभी अंग न्यूयॉर्क में स्थित है।
  • इसमें कुल 15 न्यायाधीश है जो 9 साल की अवधि के लिए चुने जाते हैं।
  • इसका मुख्य कार्य है यूनाइटेड नेशन को किसी भी कानूनी मामलों पर सलाह देना।
  • इसकी स्थापना का उद्देश्य है कि कमजोर से कमजोर देश को भी उचित रूप से न्याय मिलें।

 

6. सचिव कार्यालय 

  • इसका मुखिया ही संयुक्त राष्ट्र संघ का मुखिया होता है ।
  • इसको 5 साल के लिए नियुक्त किया जाता है।
  • यह मुख्य प्रशासनिक अधिकारी और मुख्य प्रशासनिक हेड होता है UNO का जोकि UNO के सारे कामकाज को देखता है।

इस प्रकार से UNO के ये मुख्य  6 अंग होते  है।


  1. महासभा
  2. सुरक्षा परिषद
  3. आर्थिक और सामाजिक परिषद  
  4. न्यास परिषद  
  5. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट  
  6. सचिव कार्यालय

 

संयुक्त राष्ट्र संघ का मुख्य कार्य क्या है

  1. वैश्विक शांति और सुरक्षा बनाए रखना।
  2. मानवाधिकारों की रक्षा करना।
  3. मानवीय सहायता उपलब्ध कराना।
  4. सतत विकास लक्ष्यों को बढ़ावा देना।
  5. वैश्विक कानूनों को आगे बड़ाना।
  6. कमजोर देशों की साहायता करना।
  7. उच्च विकासशील देशों द्वारा विकासशील देशों की सुरक्षा करना तथा उनका विकास करना।
  8. विशव के देशों के बीच आपसी तालमेल को बढ़ावा देना।
  9. अंतरराष्ट्रीय शांति हेतु अभियानों को बढ़ावा देना।
  10. हर व्यक्ति को विकास की परिभाषा से जोड़ना तथा विकास रूपी गंगा में डुबकी लगवाना।

 

UNO के मुख्य क्षेत्रीय कार्यालय 

  1. केन्या की राजधानी नैरोबी में
  2. इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा में
  3. थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में
  4. चिली की राजधानी सैंटियागो में
  5. अमेरिका के न्यूयॉर्क में
  6. लेबनान की राजधानी बेरुत में
  7. नेथरलैंड की राजधानी है हेग मे
  8. स्विट्जरलैंड की राजधानी जिनेवा में
  9. ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में

इस प्रकार से यह संयुक्त राष्ट्र संघ के सभी क्षेत्रीय कार्यालय हैं जो कि अलग-अलग देशों में कार्य करते हैं तथा अपने अपने क्षेत्र का संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रतिनिधित्व भी करते हैं।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ की ऑफिशियल भाषाएं 

  1. अरेबिक
  2. चाइनीस
  3. इंग्लिश
  4. फ्रेंच
  5. स्पेनिश
  6. रशियन

 

संयुक्त राष्ट्र संघ से पूर्व 1919 की वर्सेल की संधि के तहत राष्ट्रीय संघ की स्थापना की गई थी।

  • अंतरराष्ट्रीय मजदूर संघ (ILO) भी राष्ट्र संघ का एक ऑर्गनाइजेशन था लेकिन द्वितीय विश्व युद्ध के बाद इसे समाप्त कर दिया गया क्योंकि राष्ट्र संघ की जो स्थापना थी वो इसलिए की गई थी ताकि जिस प्रकार से प्रथम विश्व युद्ध घटित हुआ है ऐसा विश्वयुद्ध फिर से घटित ना हो लेकिन राष्ट्र संघ इसे रोकने में पूर्णता असफल रहा।

  • संयुक्त राष्ट्र शब्द यूएस के प्रेसिडेंट फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट के द्वारा दिया गया था।

  • संयुक्त राष्ट्र संघ की पहली मीटिंग स्थापना के बाद 10 फरवरी 1946 को वेस्टमिंस्टर हॉल जो कि लंदन में स्थित है हुई थी।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ के नीचे कुल 19 अंतरराष्ट्रीय संगठन काम करते हैं जोकि किसी ना किसी रूप से संयुक्त राष्ट्र संघ से संबंधित हैं

तथा संयुक्त राष्ट्र से संबंधित विभिन्न विभिन्न प्रकार के कार्यों को संपन्न करने का कार्य करते हैं, यह संगठन निम्न है:


  1. फूड एंड एग्रीकल्चर ऑर्गेनाइजेशन ( FAO )
  2. इंटरनेशनल सिविल एवियशन ऑर्गेनाइजेशन ( ICAO )
  3. इंटरनेशनल फंड फॉर एग्रीकल्चर डेवलपमेंट ( IFAD )
  4. इंटरनेशनल लेबर ऑर्गेनाइजेशन ( ILO )
  5. इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड ( IMF )
  6. इंटरनेशनल मैरिटाइम ऑर्गेनाइजेशन ( IMO )
  7. इंटरनेशनल टेलीकम्युनिकेशन यूनियन ( ITU )
  8. यूनाइटेड नेशन एजुकेशनल एंड साइंटिफिक कल्चरल ऑर्गेनाइजेशन ( UNESCO )
  9. यूनाइटेड नेशन इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन ( UNIDO )
  10. यूनाइटेड नेशन वर्ल्ड टूरिज्म ऑर्गेनाइजेशन ( UNWTO )
  11. यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन ( UPU )
  12. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ( WHO )
  13. वर्ल्ड मेट्रोलॉजिकल ऑर्गेनाइजेशन ( WMO )
  14. वर्ल्ड इंटरनेशनल पुलिस ऑर्गेनाइजेशन ( WIPO )
  15. वर्ल्ड बैंक ग्रुप ( WBG )
  16. इंटरनेशनल बैंक फॉर रिकंस्ट्रक्शन एंड डेवलपमेंट ( IBRD )
  17. इंटरनेशनल डेवलपमेंट एजेंसी ( IDA )
  18. इंटरनेशनल फाइनेंस कॉरपोरेशन ( IFC )
  19. मल्टी इन्वेस्टमेंट गारंटी एजेंसी ( MIGA )

इन्हीं 19 विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संगठनों के माध्यम से Sanyukt rashtra sangh अपने विभिन्न विभिन्न कार्यों को संपन्न करता है

जैसा कि आपने देखा इन 19 एजेंसियों के माध्यम से लगभग सारे देशों की वे सारे काम हो जाते हैं | जो कि मानव हित में है मानव शांति और सुरक्षा को बढ़ावा देते हैं

साथ ही मान्यता की छवि को प्रदर्शित करने के लिए जो आवश्यक तत्व हैं उनको भी यह स्थापित करते हैं।

किसी भी अंतरराष्ट्रीय संगठन की स्थापना का मुख्य उद्देश्य यही होता है कि उस संगठन द्वारा विश्व शांति की पहल की जाए और विश्व के सभी देशों के बीच मित्रता बढ़ाई जाए आपसी सहयोग को बढ़ाया जाए इसी को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र संघ को भी बनाया गया था जैसा कि आप जानते हैं।

  • संयुक्त राष्ट्र संघ के वर्तमान महासचिव एंटोनियो गुटेरेस है, यह पुर्तगाल के हैं।
  • आज वर्तमान में संयुक्त राष्ट्र संघ के कुल 193 सदस्य राष्ट्र हैं वे सभी राष्ट्र जो अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हैं इसके सदस्य राष्ट्रों में गिने जाते है।

 

संयुक्त राष्ट्र संघ और भारत 

यदि भारत की बात की जाए तो भारत संयुक्त राष्ट्र संघ के संस्थापक सदस्यों में से एक माना जाता है

क्योंकि जब संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना हुई थी तो भारत अंग्रेजों के अधीन था, ब्रिटिश राज्य से आजाद होने के बाद भारत ने यूएन के चार्टर को सशर्त स्थापित कर लिया और स्वीकार कर लिया

क्योंकि यह चार्टर अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए एक अहम भूमिका निभा रहा था और भारत भी यही चाहता था।

1960 में संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा उपनिवेशवाद को समाप्त करने की घोषणा में भी भारत अग्रणी रहा था क्योंकि भारत स्वयं  उपनिवेशवाद का दंश झेल चुका था।

वही बात की जाए तो भारत संयुक्त राष्ट्र संघ के राजनीतिक स्वतंत्रता समिति का पहला अध्यक्ष बिरहा था जिसका उद्देश्य था उपनिवेशवाद को पूर्णता जड़ से उखाड़ना और प्रत्येक उस राष्ट्र को स्वतंत्रता प्रदान कराना जो किसी अन्य शक्तिशाली देश के अधीन है।

भारत दक्षिण अफ्रीका में हो रही रंगभेद की नीति के विरुद्ध भी था और भारत ने इस मुद्दे को सर्वप्रथम संयुक्त राष्ट्र में 1960 में उठाया था

क्योंकि आप सभी को पता होगा महात्मा गांधी के साथ भी दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद के आधार पर भेदभाव किया गया था जब वे दक्षिण अफ्रीका में वकालत कर रहे थे।

भारत G-77 और गुटनिरपेक्ष आंदोलन का संस्थापक सदस्य रहा जिस कारण से भारत ने पुरजोर रूप से संयुक्त राष्ट्र संघ में विकासशील देशों का प्रतिनिधित्व किया तथा हर उस विकासशील देश की आवाज बना जो अपनी आवाज उठाने में संयुक्त राष्ट्र संघ में असमर्थ था।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ में आतंकवाद का भी पुरजोर विरोध किया क्योंकि भारत पूर्ण रूप से हर प्रकार के आतंकवाद के प्रति विरोध की भावना रखता आया है

इसीलिए साल 1996 में जब अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के विरुद्ध संयुक्त राष्ट्र संघ में एक मसौदा तैयार किया जा रहा था तो उस को पारित करवाने के लिए भारत शीघ्र यथाशीघ्र अपने प्रयास करते जा रहा था

और अंततः उस मसौदे को पारित भी किया गया ताकि अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद को रोका जा सके।

भारत June 2020 मे संयुक्त राष्ट्र संघ का स्थाई सदस्य चुना गया था। 1 जनवरी 2021 से भारत का यह कार्यकाल शुरू होगा जो कि 31 दिसंबर 2022 तक चलता रहेगा इससे पहले भी भारत कई मौकों पर संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद का स्थाई सदस्य चुना जा चुका है।

 

conclusion

इस लेख में आपने संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना कब हुई के बारे में जाना है हम आशा करते हैं कि आपको Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui इसके बारे में सही जानकारी मिल गया होगा।

अगर आपको लगता है कि इस लेख को दूसरों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना चाहिए तो आप शेयर कर सकते हैं। इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़ने के लिए आप सभी का दिल से धन्यवाद।

2 thoughts on “संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना कब हुई (Sanyukt Rashtra Sangh ki Sthapna kab Hui)”

  1. Good article,,,
    Sir aapki post image kitne kb ki hoti hai???
    And aap kis compressor website or app ka ise karte hai, please reply..

    Reply
    • Ramesh Ji thank you for commenting | Ramesh ji humare images 200kb se 500kb ke aas pas hote hai aur hum Photoshop and coreldrawa software istimal karate hai

      Reply

Leave a Comment