शादी के बाद क्या होता है – Shaadi Ke Baad Kya Hota Hai

शादी के बारे में सभी लोग जानते हैं क्योंकि शादी संसार का नियम है जिसे लोग एक पवित्र बंधन कहते हैं इस पवित्र बंधन में दो अनजान लोगों की आत्मा को बांधकर एक कर दिया जाता है।

वैसे तो हम सभी जानते हैं शादी एक बंधन है जिसमें लड़के और लड़कियां का शादी करवाया जाता है। जिसमें लड़का कहीं और का रहता है और लड़की कहीं और की रहे होती है

फिर भी यह शादी लड़के और लड़कियों के माता पिता और उनके नए रिश्ते से शुरू होती है शादी कुवांरी लड़के और कुवांरी लड़कियों को सात फेरों और सात वचनों को साक्षी मानकर भगवान को साक्षी मानकर एक नए रिश्ते की शुरुआत करने के लिए किया जाता है।जिसे हम शादी  या विवाह कहते हैं।

शादी का ये प्रथा हमारे  समाज में युगो-युगो से चली आ रही है। ये तो सभी लोग जानते हैं कि शादी एक पवित्र और जन्म जन्मांतर का अटूट रिश्ता होता है

इस बंधन में पवित्र मन से लड़की के माता-पिता अपने बेटी के हाथ लड़का के हाथो में सौंप दिया जाता है | यह प्रथा  युगो-युगो से चली आ रही है।

अपनी लड़की का हाथ लड़की के हाथ में देते हुए लड़की के माता-पिता लड़का से कहता है कि आज से हम अपनी अमानत को आपको सकते हैं आज से यह आपकी अमानत है इसका रक्षा करना आपका परम कर्तव्य है।

शादी का यह प्रथा मनुष्य से नहीं बल्कि सबसे पहले भगवान से शुरू हुआ था आपको बता दें कि जैसे भगवान शिव के साथ माता पार्वती  का विवाह  हुआ था।

माता पार्वती और भगवान शिव के शादी में दक्ष प्रजापति ने अपनी पुत्री पार्वती का हाथ भगवान शिव के हाथ में दिया था।आजकल मनुष्य के युग में हमें कई अलग-अलग तरह के रीति रिवाज भी देखने को मिल रहे हैं। जो भगवान के युग में नहीं देखने को मिला था।

 

शादी क्या है – शादी के बाद क्या होता है 

 

Shaadi Ke Baad Kya Hota Hai
Shaadi Ke Baad Kya Hota Hai

 

शादी के बाद रात को क्या किया जाता है

जब लड़का और लड़की की Marriage होती है,  तो वो दिन उन दोनों के लिए काफी खुशनुमा दिन होता है

क्योंकि इस दिन वह दोनों अपनी नई जिंदगी बसआने के बारे में सोचते हैं।

उनके साथ उनके परिवार के लोग और रिश्तेदार भी काफी खुश होते हैं, हमारे भारतीय रीति-रिवाजों में सबसे पहले दूल्हे -दुल्हन के दरवाजे पर आते हैं तो उनका स्वागत रात भर शादी का कार्यक्रम गाना बजाना डांस पार्टी ये सभी चलता रहता है।

उसके बाद दुल्हन की विदाई होती है जो कि बहुत दुखद देखने को मिलता है क्योंकि जब लड़की अपने माता पिता अपने रिश्तेदारों से विदाई लेती है तो बहुत रोती है। उनके साथ उनके सारे रिश्तेदार माता-पिता भी खूब रोते हैं

जब शादी हो जाती है तो दुल्हन दूल्हा के घर जाती है तो वहां सभी रीति रिवाजों के अनुसार बहुत सारे रस्मे को भी निभाना पड़ता है

जिसमे लड़का और लड़की को बहुत कुछ सीखने को मिलता है साथ ही साथ वह एक अलग दुनिया के बारे में सोचते हैं

शादी के बाद रात को दुल्हन के आने की खुशी में कुछ लोग बहू भोज करते हैं तो कुछ पार्टी भी करते हैं। इस पार्टी में वह अपने सभी रिश्तेदार और दोस्तों को भी बुलाते हैं।

आपने अक्सर ये  जरूर देखा होगा कि जब लड़की की शादी होती है तो वह बहुत ज्यादा घबराने लगती है वह हमेशा यही सोचती है कि हम एक अनजान लडके के साथ और अनजान परिवार में कैसे रहेंगे।

क्योंकि वह अपने माता-पिता के घर छोड़कर दूसरे के घर जाती है, ऐसे में उस में बहुत सारे परिवर्तन होना शुरू हो जाती है

क्योंकि लड़कियों को अपने मायके के तौर-तरीकों को भूल कर अपने ससुराल के सभी तौर तरीकों को अपनाना पड़ता है

क्योंकि उनके ऊपर उनके परिवार चलाने की जिम्मेदारियां भी बढ़ जाती है ऐसा करके वह एक अच्छी बहू के सारे कर्तव्य निभाते हैं।

 

शादी के बाद पति पत्नी रात में क्या करते है 

जब शादी हो जाती है तो दूल्हा और दुल्हन सभी घरेलू रस्मों रिवाजों को पूरा करके रात का इंतजार करते रहते हैं | जब रात होती है तो दूल्हा और दुल्हन अपने कमरे में जाते हैं

और बैड पर बैठकर शर्माते हुए बहुत सारी बातें करते हैं  दिन भर का सभी रस्मों को पूरा करते-करते वह काफी थक जाते इसीलिए आराम करते हैं  इतना ही नहीं लेकिन आप सोच रहे होंगे कि क्या यही सुहागरात है नहीं

सुहागरात एक ऐसी रात होती है जिसमें लड़का और लड़की शादी से पहले ही अपनी सुहागरात के बारे में सोचते रहते हैं कि हमारा सुहागरात कैसा होगा हम सुहागरात में क्या करेंगे या लड़की भी सोचती है कि सुहागरात में मेरा पति हमें गिफ्ट में क्या देगा।

 

शादी के बाद क्या होता है – रात को कैसे करते है

हम आपको बता दें कि दूल्हा -दुल्हन जब अपने कमरे में जाते हैं तो थोड़ा शर्माते हैं और अपने नए रिश्ते की शुरुआत करते हैं

जिसमें वो दोनों एक दूसरे से प्यार की बातें करते हैं, और अपने जीवन से जुड़े बातें करते हैं, और एक दूसरे में लीन हो जाते हैं

प्यार करना शुरू कर देते हैं फिर उन दोनों का सुहागरात होता है इसका आनंद वही लोग ले सकते हैं जिसका शादी अभी फिलहाल में हुआ होगा।

उसके बाद एक दूसरे को पकड़कर  सोते हैं और दोनों शारीरिक संबंध बनाते हैं जिससे उन दोनों के बिच और ज्यादा प्यार का रंग चढ जाता है।

इसे हम सुहागरात कहते हैं जिसमें दूल्हा और दुल्हन की नई जीवन की शुरुआत होती है। और इन दोनों के बीच प्रेम का बंधन बंध जाता है।

 

शादी के बाद हनीमून की तैयारी

जब शादी हो जाता है तो उसके कुछ ही दिनों बाद पति-पत्नी एक-दूसरे के साथ समय बिताने के लिए हनीमून की प्लानिंग करते हैं

और दोनों एक दूसरे को समझने के लिए और एक साथ समय बिताने के लिए हनीमून पर जाते हैं | जहां पर उन्हें किसी चीज के लिए कोई डिस्टर्ब करने वाला नहीं होता है, और वो दोनों एक दूसरे को अच्छी तरह से समझते है।एक दूसरे के साथ मौज मस्ती करते हैं।

 

शादी के बाद बेबी प्लैनिंग

शादी के कुछ सालों तक पति-पत्नी एक-दूसरे के साथ खूब रोमांस करते हैं, जब तक बेबी नहीं हो जाता है तब तक इन दोनों का रोमांस खूब चलता है

क्योंकि इनका सारा टाइम एक दूसरे के लिए होता है लेकिन जब बेवी उनकी जिंदगी में आ जाता है तो दोनों की जिम्मेदारियां और ज्यादा बढ़ जाती है।

वही पत्नी का लगाओ अपने पति पर कम होकर अपने बेबी पर होता है | और पति का लगाओ पत्नी से ज्यादा पैसा कमाने और अपने घर परिवार को चलाने पर लगा हुआ रहता है

इसीलिए यह दोनों एक दूसरे के लिए ज्यादा समय नहीं निकाल पाते जिसके कारण इन दोनों के बीच दूरियां और लड़ाई झगड़े अक्सर होते ही रहते हैं

यहां तक कि इन दोनों के पास एक दूसरे को समझने के लिए भी समय नहीं होता है। ऐसा अक्सर हम लोग अपने समाज और खुद की अपनी जिंदगी में भी देखते हैं।

 

शादी के कुछ दिनों बाद बच्चे की परवरिश

शादी के बाद जब फैमिली प्लानिंग करते हैं और जब बच्चे हो जाते हैं तो हमें सबसे ज्यादा अपने बच्चे से लगाव हो जाता है और हम सारा ध्यान अपने बच्चे की परवरिश पर लगा देते हैं

जैसे बच्चे को पढ़ाना लिखाना, ये सब चीजें शादी के बाद आने वाली मुश्किलों में से एक है ।

जैसा कि हम सभी देखते हैं आज के समय में यह सब चीज और मुश्किल होती जा रही है हर मां बाप अपने बच्चे को अच्छा परवरिश देने के लिए कितनी मुश्किल दौर से गुजरती हैं और वह अपने बच्चे का अच्छी परवरिश भी देते हैं।

जिन बच्चे के माता पिता  काम करते हैं, और अपने बच्चों के लिए किसी कामवाली को रख लेते हैं, जो उनके बच्चे को सही समय से दूध और खाना दे

उनकी देखरेख करें लेकिन  कामवाली उस बच्चे को एक मां का प्यार नहीं दे पाती हैं। जिसके कारण वह बच्चे को सही ढंग से  परवरिश नहीं कर पाते हैं ।

एक माता-पिता को चाहिए कि वह अपने बच्चे को अच्छी शिक्षा दे | उसे दूसरों की इज्जत करना सिखाए अच्छे से जिंदगी जीने के तरीके के बारे में बताएं और उसे अपने और दूसरे के अधिकारों को समझने के लिए सक्षम बनाए।

बच्चा बड़ा होकर अपनी जिंदगी अच्छी तरह से गुजारे अपने माता-पिता की सेवा करे बड़ा होकर माता-पिता का नाम रोशन करें और इस जिंदगी को खूबसूरत बनाने के लिए वह हमेशा अपने माता पिता को धन्यवाद कहते है।

 

शादी के बाद अपने पति को समझना

शादी के बाद पति को समझना आजकल हर कोई चाहता है कि उसके जीवन में एक अच्छा जीवन साथी मिले क्योंकि शादी कोई गुड्डा गुड्डी का खेल नहीं होता

यह तो जन्म जन्मांतर का बंधन होता है हमारी मान्यता और रीति-रिवाजों के अनुसार लड़की जब अपने पिता का घर छोड़ के अपने ससुराल जाती है तो उसे जीवन भर अपने पति के साथ ही गुजर-बसर करना होता है।

यह तो हम सभी जानते हैं किसी भी व्यक्ति के साथ हम जिंदगी भर एक साथ रहते हैं, और कुछ गलतियां हो जाती है तो उसे स्वीकार करना और एक दूसरे के साथ मिलकर रहना बहुत कठिन समस्या होती है लेकिन यह जितना आसान लगता है उतना आसान होता नहीं है।

हर व्यक्ति के लिए अच्छा पति या पत्नी होने का मतलब ये नहीं होता है कि सिर्फ हम एक दूसरे की तारीफ करें बल्कि अच्छा पति या पत्नी वो होता है। जो अपने जीवन साथी के हर दुख – सुख में साथ देता है उसके गलतियों को  बताता है और उसे सुधारने का मौका देता है।

इसलिए सबसे पहले पति पत्नी को एक दूसरे को अच्छी तरह से समझना होगा क्योंकि उनके सामने आने वाले हर मुश्किल को एक दूसरे को मिलकर दूर करना होगा।

क्योंकि अब दोनों को अपना जीवन एक दूसरे के साथ ही गुजारना है। इसीलिए अपने पति की दोस्त बने और हर समस्या को समझ कर उसका समाधान निकालने की कोशिश करें।

सबसे पहले आपको अपने पति को खुश करने के लिए सभी कोशिश करनी होगी। ताकि उनका मूड ठीक हो उनके साथ अपनी हर समस्याओं को शेयर करना होगा क्योंकि आपको किसी दूसरे के नजर में नहीं बल्कि अपने पति के नजरों में अच्छा पत्नी बनने की कोशिश करना चाहिए।

 

शादी के बाद अपनी आदतो को बदलना

कुछ आदतें ऐसी होती है जिससे लड़की का जिंदगी बर्बाद हो जाता है | इसलिए शादी के बाद अपनी आदतों में बदलाव करना चाहिए अगर आप अपनी आदतों में बदलाव कर लेते हैं तो आपका जीवन स्वर्ग जैसा बन जाएगा

क्योंकि अक्सर हम देखते हैं कि कुछ लड़की का आदत अच्छा होता है और कुछ लड़की का आदत बुरा लेकिन अपनी इन आदतों को बदलना इतना जल्दी आसान नहीं होता है कुछ आदतें हमें पसंद नहीं आ सकती है तो कुछ ऐसी आदतें हैं जो हमें कुछ अजीब लगते हैं।

ऐसी स्थिति में हमें शादी के बाद अच्छी आदतों को अपनाना चाहिए और खुद को भी उसी सांचे में ढाला चाहिए और जो हमारे अंदर बुरी आदतें हैं उस को बदलने की कोशिश करना चाहिए।

कुछ लोगों की ऐसी आदते होती है जो बोलते हैं जैसी है मेरे लीऐ  परफेक्ट है मुझे उसे कोई शिकायत नहीं है

लेकिन यह बात बोलना बिल्कुल गलत है क्योंकि ऐसा करके आप अपनी और अपने रिश्ते में बाधा डालते हैं अगर आपको उनकी कोई आदत अच्छी नहीं लगती है तो आपको उनको बोलना चाहिए जिससे कि वो अपनी आदतो को बदल सके।

 

शादी के बाद रिश्तो को समझना

शादी होते ही लड़कियों के लिए  कितने सारे रिश्ते बन जाते हैं जिसे संभालने का काम  लड़कियों का ही होता है, पति के साथ पत्नी को उसके माता-पिता और दूसरे घर वालों के साथ भी अच्छा व्यवहार करना पड़ता है

इसीलिए पत्नी का फर्ज़ होता है कि अपने सास-ससुर अपनी ननद देवर और उनसे जुङे रिश्ते को अच्छी तरह से संभाले और ख्याल रखें।

वही पति का भी अपनी पत्नी के लिए फर्ज होता है कि वह अपनी पत्नी का अच्छे से ख्याल रखें क्योंकि पत्नी अपने माता पिता को छोड़कर अपने पति के घर एक विश्वास के साथ आती है

उसके माता-पिता भी यह उम्मीद रखते हैं कि मेरी बेटी को अच्छे से ख्याल रखेगा वह मेरी बेटी का अच्छा जीवनसाथी बनेगा।

ताकि हम सभी जानते हैं जब शादी के बाद लड़की एक घर से दूसरे घर में जाती है वहां के तौर तरीके और परंपराएं अलग होती है जिससे पत्नी को नई चीजें अजीब और काफी मुश्किल लगते हैं

हमें यह भी समझना चाहिए कि मुश्किल का अर्थ ही जीवन होता है।

इसीलिए पत्नी को  अपने पति से बिल्कुल डरना  नहीं चाहिए  और उनके सामने खुलकर जो भी बातें हैं उनके सामने रखें।अगर वह अपनी बातें अपने पति को बताती हैं तो हो सकता है उसके काम में उसका पति मदद करें।

 

शादी के बाद रोमांस करना

कुछ लोगों के लिए शादी के बाद रोमांस का मतलब होता है सिर्फ शारीरिक संबंध बनाना लेकिन ऐसा नहीं है, रोमांस का मतलब छोटी-छोटी शरारते और आदते भी हो सकती है।

शादी के बाद पति के रूप में हमें एक नया दोस्त और जीवन साथी मिल जाता है जिसके साथ हम वो सब कर सकते हैं जो हम दूसरे व्यक्ति के साथ नहीं कर सकते हैं।

जिंदगी में रोमांस होने से व्यक्ति को लगता है कि जैसे उसकी जिंदगी में पहले कभी ना किया  हो मानो कि वह हवा में उड़ रहा है छोटी-छोटी आदतों से उनका जीवन और भी सुंदर बन सकता है

इससे यह जाहिर होता है कि आप एक दूसरे को कितनी केयर करते हो कितना फिक्र करते हो उनके बारे में कितना सोचते हो इन सब चीजों का एहसास इन्हीं छोटी-छोटी रोमांस में होता है।

जैसे हम देखते हैं कि जब शादी के बाद पति काम पर जाता है तो पत्नी को आई लव यू जरूर बोलती है

फिर अपने खाली समय में उनके लिए फेवरेट खाना बनाती है। काम पर जाने के बाद पति को फोन करती है पति के आने का इंतजार करती रहती है पति के आने के बाद एक दूसरे के साथ बैठकर खाना खाते हैं लेकिन यह सभी चीज धीरे-धीरे उन लोगों के लिए आम बात हो जाती है।

 

शादी के बाद पति पत्नी दोनों के सलाह से काम होना चाहिए

शादी के बाद पति और पत्नी दोनों का यह फर्ज होता है कि अगर पत्नी कोई काम करती है तो अपने पति के सहमति से करें और अगर पति कोई काम करता है तो अपनी पत्नी के समाधि से करें।

अगर वह दोनों एक दूसरे से मिलकर कोई काम करते हैं तो वह काम सही तरीके से हो पाएगा जैसा कि हम सभी जानते हैं परिवार में समय-समय पर बहुत सारे महत्वपूर्ण फैसले लिए जाते हैं सभी फैसले आप ही सलाह मशवरे से ही किए जाते हैं

इसीलिए कभी भी पति या पत्नी को कोई भी सलाह एक दूसरे पर थोपना नहीं चाहिए अगर ऐसा होता है तो इसे पति और पत्नी दोनों को ठेस पहुंचती है और दोनों में लड़ाई झगड़े का कारण भी बन सकता है।

ज्यादातर घरों में हम  देखते हैं कि कुछ पति का ऐसा व्यवहार होता है कि वह अपने आप को हमेशा ज्यादा अकलमंद समझते है | और अपनी पत्नी को कम अकलमंद इसीलिए वह अपनी मर्जी से ही काम करते है

और अपनी पत्नी का सलाह लेना बिल्कुल सही नही समझता है। ऐसे में कभी-कभी पति के द्वारा लिया गया फैसला भी गलत साबित हो जाता है ऐसे में पत्नी का ही नहीं बल्कि पूरे परिवार के लिए मुश्किलें बढ़ जाती है।

 

FAQs – Shaadi ke Baad kya Hota Hai in Hindi 

सवाल : शादी के बाद लड़कियां ज्यादा सुंदर क्यों होती है

अक्सर  हम देखते हैं कि शादी के बाद लड़कियों का चेहरा काफी खिल जाता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लड़कियां शादी के बाद मांग में सिंदूर लगाने लगती है साड़ी पहनती है चूड़ी पहनती है सोलह सिंगार करती है जिसके कारण वह काफी सुंदर दिखने लगती है।

सवाल : पति पत्नी के बीच शादी के बाद क्या होता है

पति पत्नी के शादी के बाद प्यार होता है नए जीवन की शुरुआत होता है और नई जिम्मेदारियां होती है।

सवाल : शादी के बाद प्यार करना गलत है

शादी के बाद प्यार करना गलत नहीं है लेकिन प्यार सिर्फ अपने पति से करना चाहिए। किसी और से नहीं क्योंकि शादी के बाद किसी और से प्यार करना गलत होता है।

सवाल : शादी के बाद दूल्हा दुल्हन कमरे में क्या करते हैं

शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन कमरे में एक दूसरे से प्यार करते हैं और सुहागरात मनाते हैं।

सवाल : शादी के बाद प्यार कैसे करना चाहिए

शादी के बाद प्यार करने के तो अनेकों तरीके हैं लेकिन केवल शारीरिक संबंध से ही प्यार नहीं होता है इसमें पति पत्नी का विश्वास आत्मसमर्पण होना भी काफी जरूरी होता है।

 

Conclusion

इस ब्लॉग लेख में शादी के बाद क्या होता है के बारें में जाना। आशा करता है आप Shaadi Ke Baad Raat main Kya Hota Hai की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

अगर आपका इससे संबन्धित किसी भी तरह का सवाल है तब नीचे कमेन्ट में पूछ सकते है जिसका हम जवाब जल्द से जल्द देने की पूरी कोशिश करेंगे

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी शेयर करना चाहिए तो इसे सोश्ल मीडिया पर सबके साथ इसे साझा अवश्य करें।

क्योंकि आजकल ज्यादातर  लड़के लड़कियां पुरुष और महिला इस तरह के  लेख पढ़ना काफी पसंद करते हैं।और खासकर उन लोगों के लिए जिन लोगों का अभी शादी नहीं हुआ है उन्हें भी इस लेख से काफी कुछ सीखने को मिलेगा

Leave a Comment